Friday, August 19, 2011


बाँध पर काम करते मजदूर 
 फसल की बर्बादी
मनिहारी जिस गंगा मैया के कारण प्रसिद्ध है आज वही गंगा मैया मनिहारी वासियों के जान के दुश्मन बनी बैठी हैं ! मनिहारी में बाढ़ का पानी धीरे-धीरे खतरे के निशान के ऊपर बढती जा रही है ! पानी के रफ़्तार को देखकर पुरे मनिहारी में हरकंप मच गया है ! फसल के बर्बादी के साथ-साथ जन-जीवन भी अस्त-व्यस्त हो गया है ! लोग झुग्गी-झोपरी में रहने को मजबूर हो गए हैं ! एक तरफ जहाँ लोग अपने जान माल की सुरक्षा तथा उन्हें सही और सुरक्षित जगह में पहुँचाने में लगे हुए हैं, तो वही बाँध टूटने का भी खतरा उनके सर मंडरा रहा है ! यदि पानी का रफ़्तार यही रहा तो मनिहारी रेलवे बाँध को टूटने से कोई नहीं बचा सकता !वहीँ आज मनिहारी विडियो एवं कटिहार डी० एम्० ने मनिहारी पीड़ पहाड़ के समीप बाँध का सर्वेक्षण किया !  बाँध पर बालू के बने बोरियों से ठोकर बनाने का काम चल रहा है वही दूसरी ओर रेलवे द्वारा रेलवे बाँध पर भी डस्ट गीराने का काम चल रहा है ! दर्जनों गाँव बाढ़ के पानी के चपेट में आ गया है, तथा सभी किसी ऊँचे स्थान पे जाने को बेवस हो गए हैं !  ऐसे में नाव ही उन ग्रामीणों की मुख्य यातायात का साधन है और नाव की कमी दिखाई पर रही है ! सरकारी स्तर पर कुछ नावों की व्यवस्था की गयी है ! अब ऐसे में सभी यह दुआ कर रहें हैं कि बारिश न हो क्योंकी बारिश होने पर स्थिति गंभीर हो सकती है ! 
                               बाढ़ के बाद गंगा कटाव का भी खतरा भी बड़ी  समस्या है क्योंकि गंगा की कटाव सीधे मनिहारी की ओर है ! यदि समय रहते ही सही कदम नहीं उठाया गया तो मनिहारी खतरे में पड़ सकता है ! जहाँ गंगा नदी की मुख्य धार मनिहारी  से लगभग एक किलोमीटर दूर थी वहीँ आज गंगा की धार मनिहारी पीड़ पहाड़ से महज चालीश मीटर की दुरी पर आ पहुंचा है !
Reactions:

1 comment:

  1. Gaurav kumar paswanAugust 21, 2011 at 9:32 PM

    Kamal karte hain Tinku jee. Itni achhi khabar chhupa kar rakhte ho, Hame pata bhi nahin chalne diya.

    ReplyDelete

Total Pageviews

Ads 468x60px

Featured Posts

Social Icons

.

.

Followers

Popular Posts