Tuesday, March 22, 2011

गंगा मैया के चरण स्पर्श में रहने वाला बिहार की इस धरती को मेरा कोटि-कोटि नमन ! आज सर्वगुण संपन्न बिहार को शतायु होने का गौरव प्राप्त हुआ है ! 94,163 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ बिहार भारत देश के एक प्रतिष्ठित राज्यों में एक है ! उत्तर दिशा में नेपाल, दक्षिण में झारखण्ड, पूर्व में पश्चिम बंगाल और पश्चिम में उत्तर प्रदेस इसके सीमावर्ती राज्य हैं ! उत्तर से दक्षिण 360 कि० मी० लम्बाई और पूर्व से पश्चिम 483 कि० मी० चौड़ाई में राज्य का विस्तार है !
          १२वी० सताब्दी के अंत में नालंदा और औदंत्पुरी  के निकट 'बौध्द विहारों' की बहुसंख्या के कारण इस राज्य का नाम 'विहार' पड़ा; जो कालांतर में 'बिहार' नाम से प्रचलित हुआ ! स्वतंत्रता संग्राम में अनेक वीरो को जन्म देने वाला बिहार महात्मा बुद्ध, 24 जैन तीर्थकारो, ऋषि-मुनियों तथा अनेकानेक प्रमुख व्यक्तियों की कर्मभूमि तथा जन्मभूमि रही है ! महात्मा गाँधी का प्रिय स्थान में से एक बिहार भी था जो उनको प्रिय था !
      राज्य भाषा हिंदी के साथ-साथ भोजपुरी, मैथली, उर्दू, मागधी भी यहाँ के छेत्रिय भाषा हैं ! आज भोजपुरी फिल्म बिहार की एक अलग ही पहचान दे रही है ! मधुबनी एवं पटना चित्रकला शैली यहाँ की कला एवं संस्कृति दर्शाती  है ! सोनपुर का मेला बिहार की एक अलग ही छवि प्रदान करती है ! राजधानी पटना के अलावे भागलपुर, मुजफ्फरपुर, बरोनी, कटिहार, पूर्णिया, मुंगेर, मधुवनी समस्तीपुर यहाँ के प्रमुख नगर हैं ! पटना, हाजीपुर, आरा, बरोनी, कटिहार, एवं गया यहाँ के प्रमुख रेलवे जंक्शन है ! 
                                  आज बिहार विकाश की पटरी पर एक रफ़्तार से चल पड़ा है ! अब वो दिन दूर नहीं रहा जब बिहार को एक विशेष राज्य का दर्जा दिया जाए ! भ्रस्टाचार यहाँ का मुख्य परेशानी थी जो आज धीरे-धीरे समाप्त होते जा रही है ! आज बिहार की महिलाएं को आगे आने का मौका मिला है तथा इसका लाभ उठाते हुए उन्होंने पुरुष के मुकाबले बेहतर कार्य किया है; इसी का नतीजा है, की राज्य में महिलाओ के साक्षर होने की प्रतिशतता बढ़ते जा रही है ! बिहार के युवा वर्ग में प्रतिभा की कमी नहीं है, बस मौका मिलना चाहिए वो बेहतर से और बेहतर करके दिखा सकते हैं ! शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार, जल समस्या, बिजली, सड़क, संचार आदि मुख्य एवं बुनियादी समस्या रही है जिसमे से हमने तो शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क, संचार, जल समस्या पर लगभग जीत पा चुके हैं ! बिजली, तथा रोजगार अभी यहाँ की मुख्य समस्या में से एक है जिसका नतीजा है की लोग आज भी अपने राज्य को छोड़ कर पडोसी राज्यों में रोजगार की तलास में निकल जाते है, जिस दिन इस समस्या का हल हमें मिल जाएगा उस दिन बिहार सबसे सुखी और समृद्ध राज्य के रूप में गिना जाने लगेगा ! 
                                 किसी भी कार्य को सफल बनाने में युवा वर्ग की विशेष भूमिका होती है ! बिहार के युवा वर्ग में इतनी प्रतिभा है की वो किसी भी कार्य को बखूबी निभा सकते है तो आइये हम युवा आज बिहार दिवस के मौके पे संकल्प लें की जाति, सम्प्रदाय, उंच-नीच से परे होकर एक गौरवशाली तथा विकशित बिहार बनाने का वचन le,  ताकि हम गर्व से कह सकें की हाँ मै एक "बिहारी" हूँ ! 
                                                       "जय बिहार जय बिहारी"
                                                        "जय हिन्द जय भारत"    

                    बिहार दिवस पर होने वाले कार्यक्रम की सूचि देखने के लिए क्लिक करें
                                        
                                                                                                               टिंकू कुमार चौधरी







Reactions:

0 comments:

Post a Comment

Total Pageviews

Ads 468x60px

Featured Posts

Social Icons

.

.

Followers

Popular Posts